Taliban rule: 24 घंटे का टॉर्चर, तालिबान की गिरफ्त में WION रिपोर्टर अनस मलिक के साथ क्या हुआ?

1 week ago

Taliban assaulted WION reporter Anas Mallick: अफगानिस्तान के काबुल में गुरुवार को रिपोर्टिंग के दौरान हमारे सहयोगी चैनल WION के रिपोर्टर अनस मलिक और उनकी टीम पर जनलेवा हमला हुआ. उनकी टीम को कार से बाहर निकाल कर जमीन पर घसीटा गया और फिर अनस समेत पूरी टीम को पीटा गया. हालांकि अब अनस मलिक पूरी तरह सुरक्षित हैं और उन्होंने आपबीती को लेकर बड़ा खुलासा किया है. अनस बुधवार को काबुल पहुंचे थे और इसके एक दिन बाद वहां तालिबान शासन (Taliban rule in Afghanistan) एक साल पूरे होने की कवरेज कर रहे थे. साथ ही वह अलकायदा लीडर अल जवाहिरी (Al-Zawahiri) की हत्या को लेकर भी काबुल से अपडेट दे रहे थे.

अनस मलिक ने बताई आपबीती

अमेरिका ने ड्रोन स्ट्राइक में अलकायदा चीफ अल जवाहिरी के मारे जाने का दावा किया है और इसे लेकर तालिबान ने कहा कि उसे अफगानिस्तान में जवाहिरी की मौजूदगी के बारे में जानकारी नहीं थी. साथ ही तालिबान ने अमेरिका पर अपने इलाके में हमले को लेकर अंतरराष्ट्रीय सिद्धांतों को तोड़ने का आरोप भी लगाया है. लेकिन तालिबान अपना सच दुनिया के सामने आने नहीं देना चाहता और यही वजह रही कि काबुल में WION चैनल के लिए रिपोर्टिंग कर रहे अनस मलिक को किडनैप किया गया था.

अनस ने अपने साथ हुई वारदात के बारे में कहा कि हमारे पास सभी जरूरी परमीशन और डॉक्यूमेंट थे. हम सभी जरूरी वाकयों को शूट भी कर रहे थे. इस दौरान हमें इंटरसेप्ट किया गया और कार से बाहर निकाल कर घसीटा गया. उन्होंने बताया कि हमारे मोबाइल फोन भी छीन लिए गए थे. इसके कुछ देर बाद हमें उस जगह से कहीं और ले जाया गया  और अफगान-तालिबान की खुफिया यूनिट के सामने पेशी की गई.

टीम को हथकड़ी में रखा गया 

पिछले 24 घंटे तालिबान की गिरफ्तर में रहने के दौरान टीम के सदस्यों के हाथों में हथकड़ी लगाई गई थीं और आंखों पर पट्टी बंधी थी. वहां मौजूद लोगों ने अनस की रिपोर्टिंग को लेकर सवाल उठाए और उन पर तरह-तरह के आरोप भी लगाए गए. साथ ही टीम के सदस्यों से कई पर्सनल सवाल भी पूछे गए थे.

ये स्टोरी आपने पढ़ी देश की सर्वश्रेष्ठ हिंदी वेबसाइट Zeenews.com/Hindi पर

Read Full Article at Source