Rishi Sunak का प्रधानमंत्री बनने का सपना रह जाएगा अधूरा! सर्वे में सिर्फ 28 फीसदी लोगों ने किया पसंद

1 month ago

Liz Truss Britain News: ब्रिटेन में अगले प्रधानमंत्री को चुनने की कवायद तेज हो गई है. वहां भारतीय मूल के ऋषि सुनक प्रधानमंत्री पद के लिए पिछड़ते हुए दिखाई दे रहे हैं. हाल में हुए सर्वे के मुताबिक मौजूदा विदेश मंत्री लिज ट्रस 32 अंकों के साथ भारी बढ़त बना चुकी है. ऐसा संकेत मिल रहा है कि ऋषि सुनक प्रधानमंत्री की कुर्सी तक नहीं पहुंच पाएंगे. ब्रिटेन की अगली प्रधानमंत्री लिज ट्रस हो सकती हैं. 

ट्रस को मिला भारी समर्थन 

पिछले महीने तक प्रधानमंत्री बनने की रेस में सिर्फ दो ही उम्मीदवार बचे थे, तभी से लिज ट्रस बढ़त बनाई हुई हैं. सुनक को अब कम समर्थन मिल रहा है, वहीं दूसरी ओर ट्रस को अधिक सदस्य समर्थन कर रहे हैं. वैसे नतीजे 5 सितंबर को घोषित होने वाले हैं. इसमें जो उम्‍मीदवार जीतेगा, वो 6 सितंबर को मौजूदा प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन की जगह लेगा. 60 फीसदी सदस्‍यों का कहना है कि वे इस पोल में पहले ही मतदान कर चुके हैं. जबकि 40 फीसदी का कहना है कि उन्‍होंने अभी मतदान नहीं किया है. द ऑब्जर्वर अखबार की मानें तो पहले किए गए सर्वे में कंजर्वेटिव पार्टी के 570 सदस्यों को शामिल किया गया था. जिसमें 61 फीसदी सदस्यों ने लिज ट्रस का समर्थन किया था. जबकि 39 फीसदी सदस्यों ने सुनक का समर्थन किया था.

2 सितंबर तक चुना जाना है ब्रिटेन का प्रधानमंत्री 

कंजर्वेटिव पार्टी के सदस्‍यों के लिए वोटिंग कर ब्रिटेन का नया प्रधानमंत्री चुनने के लिए 2 सितंबर की तारीख तय की गई है. फिलहाल ब्रिटेन के कार्यवाहक प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन बने हुए हैं. लिज ट्रस को पार्टी के सदस्‍य बेहतर उम्‍मीदवार मान रहे हैं. इस वजह से देश का नेतृत्व भी उन्‍हें ही मिलने की संभावना है. पहले-दूसरे राउंड में ऋषि सुनक ने बढ़त बनाई थी.

आर्थिक मुद्दों पर ऋषि सुनक को मिला हुआ है समर्थन  

ऋषि सुनक सर्वे में तो पीछे नजर आ रहे हैं लेकिन, फिर भी कई सदस्‍य उनकी आर्थिक नीतियों का पसंद करते हैं. वहीं दूसरी ओर उनके सामने सबसे बड़ी समस्‍या यह है कि अधिकतर सदस्‍यों में यह राय बनी हुई है कि वे ईमानदार नहीं हैं या इस बड़े पद के लिए उन पर भरोसा नहीं जताया जा सकता. 

ये ख़बर आपने पढ़ी देश की नंबर 1 हिंदी वेबसाइट Zeenews.com/Hindi पर

Read Full Article at Source